Menu

Indira Gandhi Shahri Credit Card Yojana

इन्दिरा गाँधी शहरी क्रेडिट कार्ड योजना

 

परिचय

 

माननीय मुख्यमंत्री महोदय द्वारा बजट घोषणा 2021-22 की पालना में इन्दिरा गाँधी शहरी क्रेडिट कार्ड योजना प्रारम्भ

कोविड-19 के दृष्टिगत शहरी क्षेत्रों में रोजगार/स्वरोजगार व रोजमर्रा की जरूरतों के लिए वित्तीय संसाधन उपलब्ध करवाना

शहरी क्षेत्र के पथ विक्रेताओं, असंगठित सेवा क्षेत्र के युवाओं तथा बेरोजगारों को योजना के तहत 5 लाख व्यक्तियों को रू. 50000 तक का ब्याजमुक्त ऋण उपलब्ध करवाना

योजना के अर्न्तगत सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक/निजी बैंक/सहकारी बैंक तथा वित्तीय संस्थानों के माध्यम से ऋण

 

योजना हेतु पात्रता

राजस्थान का स्थायी निवासी, जिसकी कुल व्यक्तिगत मासिक आय 15000 से कम तथा पारिवारिक मासिक आय 50,000 से कम हो

शहरी बेरोजगार युवा

जिला रोजगार केन्द्र में पंजीकृत बेरोजगार (जिन्हे बेरोजगारी भत्ता ना मिल रहा हो)

शहरी स्ट्रीट वेण्डर्स

सर्वे में चिन्हित स्ट्रीट वेंडर्स 

विक्रय प्रमाण पत्र व पहचान पत्र धारी स्ट्रीट वेण्डर्स

सर्वे से वंचित स्ट्रीट वेण्डर्स जिन्हे निकाय द्वारा LOR जारी किया गया  हो

पेरी-अर्बन क्षेत्र में कार्यरत जिन्हें निकाय द्वारा सिफारिष पत्र जारी किया गया हो

असंगठित सेवा क्षेत्र के कामगर 

हेयर ड्रेसर, रिक्षावाला, कुम्हार, खाती, मोची, मिस्त्री, दर्जी, धोबी, पलम्बर, मिस्त्री, चाय वाला, चाट वाला आदि (आयु सीमा 18-40 वर्ष)

जिला कलक्टर द्वारा चिन्हित, अन्य व्यवसायो में कार्यरत लोग

 

 

: :
Webpage Last Updated on : Sep 30, 2021